TA तथा DA किसे कहते हैं ? TA का फुल फॉर्म ? DA का फुल फॉर्म ?

By | May 20, 2021

TA तथा DA किसे कहते हैं ? TA का फुल फॉर्म ? DA का फुल फॉर्म ? – आज इस आर्टिकल में हम आपको एक बहुत अमेजिंग टॉपिक पर जानकारी देने जा रहे हैं। आज इस आर्टिकल में हम आपको TA क्या है? DA क्या है? के बारे में बताएंगे। तो दोस्तों अगर आप जानना चाहते हैं TA क्या है? DA क्या है? तो यह आर्टिकल आखिरी तक पूरा पढ़िए। इस आर्टिकल में आपको TA तथा DA से जुड़ी संपूर्ण जानकारी विस्तार से दी गई है।

अगर आप एक सरकारी कर्मचारी हैं, अगर आप किसी भी विभाग में सरकारी नौकरी करते हैं या फिर आपका कोई जानने वाला कहीं पर सरकारी नौकरी करता है तो आपने उसके मुंह से TA यह DA के बारे में जरूर सुना होगा। किसी सरकारी कर्मचारी से उसके तनख्वाह पूछेंगे तो वह आपको एक निश्चित सैलरी बताएगा और यह भी बताया था कि उसे TA तथा DA अलग से दिया जाता है।

TA तथा DA किसे कहते हैं ? TA का फुल फॉर्म ? DA का फुल फॉर्म ?

जैसा कि आप सभी को पता है सरकार अपने कर्मचारियों का विशेष रूप से ध्यान रखती है। आमतौर पर जो लोग प्राइवेट नौकरी करते हैं उनके मालिक अपने कर्मचारियों की समस्याओं को नहीं समझते और ना ही उन्हें अतिरिक्त पैसे देते हैं। लेकिन जितने भी सरकारी कर्मचारी होते हैं उन्हें सरकार के द्वारा ढेर सारी सुख सुविधाएं दी जाती हैं। सरकार अपने कर्मचारियों को महीने में सैलरी के अलावा कई अन्य भत्ते देती है।

लिपि क्या है- लिपि किसे कहते है

कुछ-कुछ विभाग में सरकार अपने कर्मचारियों को TA भत्ता तथा DA भत्ता देती है। अगर आपको TA और DA के बारे में जानकारी नहीं है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। नीचे हम आपको TA तथा DA से जुड़ी संपूर्ण जानकारी विस्तार से बताने जा रहे हैं।

अगर आप जानना चाहते हैं TA किसे कहते हैं? DA किसे कहते हैं? नीचे की जानकारी को ध्यान से पढ़िए। नीचे आपको TA तथा DA का फुल फॉर्म तथा इनके बारे में जानकारी दी गई है।

TA किसे कहते हैं ?

आइए दोस्तों हम आपका ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए आपको बताते हैं TA किसे कहते हैं? अगर आप नहीं जानते TA किसे कहते हैं? आपकी जानकारी के लिए बता दूं TA का फुल फॉर्म ट्रैवलिंग एलाउंस होता है इसे हिंदी में हम यात्रा भत्ता के नाम से जानते हैं। यात्रा भत्ता वह भत्ता होता है जो सरकार अपने कर्मचारियों को यात्रा करने के लिए बिल्कुल फ्री में देती है।

मान लीजिए आप किसी सरकारी विभाग में काम करते हैं। आपको अपने किसी office काम के कारण देश राज्य या जिले से बाहर जाना पड़ गया। ऐसे में सरकार आपको आने जाने का पूरा खर्चा देगी। इसी के साथ साथ सरकार आपको लगभग होटल में रुकने का खर्चा, खाने का खर्चा भी देगी। आप जिस माध्यम से यात्रा करेंगे उसका पूरा खर्चा भी सरकार उठाएगी। अब यह आप पर निर्भर करता है आप ट्रेन से जाते हैं या हवाई जहाज से जाते है।

सरकार हर महीने आपको जब सैलरी देती है उसी सैलरी में है यात्रा भत्ता जुड़ा होता है। जब आप कंपनी के काम से कहीं यात्रा पर जाते हैं तो आपको उन्हीं पैसों से अपनी यात्रा करनी पड़ती है। यदि आपकी यात्रा का खर्चा सरकार द्वारा दी गई यात्रा भत्ता से ज्यादा आता है तो आप इसका बिल लेकर कार्यालय में जमा कर सकते हैं। इसके बाद आपके जो अतिरिक्त पैसे खर्च होते हैं वह भी आपको वापस कर दिए जाते हैं।

आशा करता हूं अब आपको पता चल गया होगा यात्रा भत्ता किसे कहते हैं? आपको यह भी बता दूं कि यात्रा भत्ता सिर्फ उन्हीं लोगों को दिया जाता है जो किसी विभाग में अच्छी पोजीशन पर होते हैं। जिन कर्मचारियों को विभाग बार-बार किसी काम से बाहर भेजता है उन्हें यात्रा भत्ता दिया जाता है।

DA किसे कहते हैं ?

अभी तक ऊपर हमने आपको बताया TA किसे कहते हैं? और शायद आपको समझ में आ गया होगा TA किसे कहते हैं? आइए हम आपको बताते हैं DA किसे कहते हैं? अगर आप जानना चाहते हैं DA किसे कहते हैं? आपकी जानकारी के लिए बता दो DA का फुल फॉर्म dearness allowance होता है। इसलिए हम हिंदी में महंगाई भत्ता के नाम से जानते हैं।

जैसा कि आप सभी को पता है जितने भी सरकारी कर्मचारी होते हैं वह पूरी तरह से सरकार के ऊपर निर्भर रहते हैं। देश में प्रतिदिन महंगाई बढ़ती चली जा रही है। अब ऐसे में सरकारी कर्मचारी को किसी भी समस्या का सामना करना पड़े इसके लिए सरकार उन्हें महंगाई भत्ता देती है।

सरकार कर्मचारियों को दी जाने वाली मासिक तनख्वाह में कुछ रुपए जोड़कर उन्हें महंगाई भत्ता के रूप में देती है। आशा करता हूं अब आपको पता चल गया होगा DA किसे कहते हैं।

निष्कर्ष

यह आज आपके लिए एक छोटी सी जानकारी थी। आज इस आर्टिकल में हमने आपको बताया TA किसे कहते हैं? DA किसे कहते हैं? आशा करता हूं यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। आर्टिकल को आखरी तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *