vyakaran किसे कहते है?vyakaran के भेद…

By | February 10, 2021

vyakaran kise kahate hain(व्याकरण किसे कहते है)

vyakaran kise kahate hain

व्याकरण की परिभाषा(defination):-

परिभाषा(व्याख्या):- वह विद्या जिसके माध्यम से किसी भाषा को शुद्ध रूप मे पढ़ते , लिखते , एवं समझते है उसे व्याकरण कहते है।

व्याकरण किसी भी भाषा के शुद्ध रूप का ज्ञान देता है।

व्याकरण से वर्ण, शब्द, तथा वाक्यों का शुद्ध उच्चारण करना एवं लिखना आता है।

व्याकरण सभी भाषा के लिए होता है जैसे की हिंदी भाषा का व्याकरण, अंग्रेजी भाषा का व्याकरण,गुजरती भाषा का व्याकरण आदि…

निचे वाले उदाहरण को ध्यान से देखिये…

1) जयेश बाजार को जाता है।

ऊपर दिए गई उदाहरण वाक्य का अशुद्ध रूप है। ऊपर वाले उदाहरण को देखते पता चलता है की इसमें व्याकरण की क्षती है।

अब हम इसका सही वाक्य क्या है वो जानते है।

सही वाक्य:– जयेश बाजार जाता है।

हिंदी(hindi) व्याकरण के कुछ अंग होते है अब हम उसे समझते है।

 

vyakaran ke kitne bhed hote hain[व्याकरण के कितने भेद(विभाग) होते है]

vyakaran ke kitne bhed hote hain

 

व्याकरण के मुख्य 4(चार) भेद(bhed) यानि विभाग होते है।

कई जगह पर तीन(3) अंग होते है ऐसा भी कहा जाता है।

 

व्याकरण(vyakran) के भेद

(1) वर्ण-विचार

(2) शब्द-विचार

(3) पद-विचार

(4) वाक्य-विचार

अब हम एक-एक करके सभी अंग(bhed) को समझते है।

वर्ण-विचार

परिभाषा:-भाषा की वह सबसे छोटी से छोटी ध्वनि(इकाई) जिसके अब और टुकड़े(भाग) नहीं किया जा सकता उसको वर्ण(शब्द)-विचार कहते है।

जैसे की:- क, म, र, ज, प

ऊपर दिए गई वर्ण(शब्द) को अब और विभाग नहीं किया जा सकता।

याद रहे:- (i) ध्वनि वर्ण का मौखिक रूप है।

(ii) वर्ण ध्वनि का लेखित रूप है।

वर्ण के भी दो(2) भाग होते है।

➡ स्वर

➡व्यंजन

शब्द-विचार

 

परिभाषा:- दो या उससे अधिक वर्ण एक साथ मिलते है और उनमे सार्थक अर्थ निकलता हो उसे शब्द कहा जाता है

जैसे की:- जयेश, रमेश, पूनम, आदि….

शब्द के भी कुछ भेद(भाग) होते है।

(i) स्त्रोत के आधार पर(इतिहास के आधार पर)

(ii) रचना या बनावट के आधार पर

(iii) अर्थ के आधार पर

पद-विचार

परिभाषा:- शब्द को कोई स्थान मिला हो उस शब्द को पद कहते है।

जैसे की:- जयेश खाना खा रहा है।

यहाँ जयेश एक शब्द ही है लेकिन यहाँ जयेश एक कर्ता के स्थान पर है इसी लिए उसको पद कहा जाता है

उदाहरण:- लडका आम खाता है।

यहाँ पे लड़का शब्द को संज्ञा की पदवी मिल गई है। अब ये शब्द ना रहके पद बन गया है।

जरूर सीखे:- संज्ञा क्या है और संज्ञा के कितने भेद है?

वाक्य-विचार

वाक्य की परिभाषा :- जब हम कई सारे शब्द को मिलाकर एक सार्थक अर्थ प्रदान करते है तो उसे वाक्य कहा जाता है।

याद रखे वाक्य को भाषा की सबसे बड़ी इकाई कहा जाता है।

जैसे की:- राजेश खाना खा रहा है।

यहाँ ऊपर पांच(5) शब्द और वर्ण को मिलके एक सार्थक अर्थ वाला वाक्य बना है इसे वाक्य कहते है।

व्याकरण के आधार पर कुछ सवाल

Q:1 हिंदी भाषा की सबसे छोटी इकाई कौन सी है?

(a) शब्द- विचार

(b) पद- विचार

(c) वर्ण- विचार

(d) वाक्य- विचार

Q:2 हिंदी व्याकरण मे ध्वनि क्या है?

(a) वर्ण का मौखिक रूप

(b) वर्ण का लेखित रूप

(c) भाषा की सबसे बडी इकाई

(d) none

Q:3 हिंदी व्याकरण मे वर्ण क्या है?

(a) ध्वनि का मौखिक रूप

(b) ध्वनि का लेखित रूप

(c) भाषा की सबसे बडी इकाई

(d) none

Q:4 हिंदी भाषा की सबसे बड़ी इसके क्या है?

(a) शब्द- विचार

(b) पद- विचार

(c) वर्ण- विचार

(d) वाक्य- विचार

Q:5 व्याकरण मुख्य के कितने भेद(भाग) है?

(a) 1

(b) 5

(c) 7

(d) 4

उतर:-

(1) (c)वर्ण-विचार

(2) (a)वर्ण का मौखिक रूप

(3) (b)ध्वनि का लेखित रूप

(4) (d)वाक्य-विचार

(5) (d)4

आपको ये जानकारी कैसे लगी please कमेंट करके बताये…अगर आपको व्याकरण के विषय पर कोई भी सवाल हो तो please कमेंट करके बताये…

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *